Shani Sade Sati, Mahadasha Shanti, Mahayagya – Online Puja

1,504.00

शनि साढे़ साती, महादशा शांति महायज्ञ
Location – शनि शिंगणापुर देवस्थानम,महाराष्ट्र

 Embark on a Journey of Progress and Success

As the shadows of Shani Dosh dissipate, you’ll find yourself basking in the benevolence of Shani Dev. Your life takes a turn for the better, marked by progress and success in your endeavours. Both your professional and business pursuits flourish, as Shani Dev showers you with his coveted blessings.

   Embrace Saturn’s Mahadasha Blessings

If Saturn’s Mahadasha is currently influencing your life, you might be grappling with job, business, or relationship challenges. Worry not, as the Shani Shanti Mahayagya brings you the blessings of Shani Dev, providing solace and serenity to your heart.

   Say Goodbye to Sade Sati and Shani Dosh

Sade Sati, that daunting seven-year phase, can obscure your path. When Shani Dosh lingers in your horoscope, it can seem like every endeavour is met with setbacks. However, this sacred worship acts as a beacon of hope, liberating you from the clutches of Shani Dosha.

 

पन्न करवाने से आपके जीवन के सभी कष्ट दूर हो जाएंगे।

Category:
Puja Location – शनि शिंगणापुर देवस्थानम,महाराष्ट्र
.
.

पूजा के बारे में

शनि की साढ़े साती से मुक्ति, शनि दोष की शांति, शनि ढैय्या की परेशानी से मुक्ति के साथ, जीवन में शांति, समृद्धि और उन्नति के लिए वामा ऐप की ओर से शनि शांति महायज्ञ में भाग लें। शनि देव की पूजा कर्म और न्याय के देवता के रूप में की जाती है। आपके जीवन में किसी भी प्रकार के कष्ट और कार्य क्षेत्र में उत्पन्न होने वाली समस्याओं का मुख्य कारक आपको शनि देव ही देते हैं। यदि बहुत दिनों से आपके किसी काम में विलंब हो रहा हो, असमय आपको छोटा-छोटा नुकसान हो रहा हों, घर में कलह या मतभेद से पीड़ित हो रहे हों, तो आपको देश के सबसे प्रतिष्ठित शनिदेव मंदिर शनि शिंगणापुर में आयोजित इस पूजा में जरूर भाग लेना चाहिए। शनि की साढ़े साती सात साल तक व्यक्ति को परेशान करती है। इस समय मकर, कुंभ और मीन राशि के लोगों पर साढ़े साती का प्रभाव और कर्क और वृश्चिक राशि पर ढैय्या का प्रभाव चल रहा है। शनि कुंभ राशि में स्थित हैं और सभी राशि के लोगों पर विशेष प्रभाव डाल रहे हैं। तीसरी दृष्टि से मेष, सातवीं दृष्टि से सिंह पर शनि का प्रभाव रहेगा। वहीं कुंडली में भी शनि की स्थिति आपके जीवन को प्रभावित कर सकती है। इसलिए जीवन के सभी दु:ख और परेशानियों को दूर करें और अभी करवाएं शनि साढे़ साती महादशा शांति महायज्ञ। 

 

मंदिर की जानकारी

शनि शिंगणापुर मंदिर महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में स्थित है। यह मंदिर भगवान शनि को समर्पित है और देश का एकमात्र मंदिर है जहाँ कोई हस्तनिर्मित मूर्ति नहीं होती है। इसी स्थल को भगवान शनिदेव का जन्मस्थान माना जाता है। मंदिर में लगभग 400 वर्ष पहले एक स्वयंभू शनि देवता की मूर्ति दर्शनीय है, जो शिला के स्वरुप में स्थापित है । इसे भक्तगण भगवान शनि के अभिसंधान का रूप मानते हैं। यहाँ पर कोई मंदिर नहीं है, बल्कि एक छोटा सा जर्जर प्राचीन मंदिर है, जो लोगों की आस्था का केंद्र है। काले रंग के संगमरमर की शनि देव की यह स्वयंभू मूर्ति लगभग 5 फुट 9 इंच ऊंची और 1 फुट 6 इंच चौड़ी है। शनि शिंगणापुर मंदिर की एक विशेषता यह है कि यहाँ पर मंदिर के आसपास कोई घेराव नहीं है और यहाँ पर किसी भी तरह की चोरी नहीं होती है और लोग यहाँ पूरी श्रद्धा से शनि अभिषेक करने आते हैं। इस मंदिर में हर शनिवार को भगवान शनि की पूजा अर्चना की जाती है। यहाँ पर ना केवल भारतीय अपितु विदेशों से भी लोग आते हैं और इस मंदिर की धार्मिक और ऐतिहासिक महत्ता को समझते हुए भगवान शनि की आराधना करते हैं। मान्यता यह है की यदि कोई मामा भांजा इस पवित्र स्थल पर शनि का अभिषेक करवाते हैं, तो उन्हें अत्यधिक लाभ मिलता है। शनि शिंगणापुर मंदिर एक ऐसा स्थान है जहाँ आपको अद्भुत और शांतिपूर्ण वातावरण मिलेगा। इस पवित्र स्थल पर विधिपूर्वक शनि अभिषेक पूजा सं

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Shani Sade Sati, Mahadasha Shanti, Mahayagya – Online Puja”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Delivery Details 

We Will Dispatch Your Order in 2-3 Business days.
Delivery Time is Depend On Your Location. In india We Will Delivery Your Product in 4-10 Days.
If Your Location In Out Of India So Delivery Depend On Your Location, Area, Shipment Policy and Country Policy.
If you have any Enquiry Consult Us.